BCA क्या होता है और इसे कैसे करें । BCA Course Details in Hindi


BCA क्या होता है और इसे कैसे करें ।

आज कल स्टूडेंट्स की रूचि कंप्यूटर फिल्ड में ज्यादा बढ़ रही है, इसलिए कई सारे स्टूडेंट्स बारहवीं पास करने के बाद कंप्यूटर फिल्ड में जाना चाहते हैं, और कंप्यूटर फिल्ड में जाने के लिए BCA कोर्स काफी अच्छी चॉइस है, लेकिन इसमें एड्मिसन लेने से पहले आपको कुछ जरुरी बातें पता होनी चाहिए, आपको इस कोर्स के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए कि आखिर ये कोर्स क्या है, इसमें किस तरीके से पढ़ाई होती है और इसे करने के बाद आप किस तरीके की जॉब कर सकते हैं।
सबसे पहले बताते हैं कि BCA क्या होता है
BCA एक प्रोफेसनल डिग्री कोर्स है जिसका पूरा नाम है (बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन) जोकि एक अंडर ग्रेजुएट कोर्स है, ये कोर्स पुरे तीन साल का होता है. इस कोर्स को आप बारहवीं पास करने के बाद कर सकते हैं, इसमें आपको कंप्यूटर एप्लीकेशन और कंप्यूटर साइंस से रिलेटेड चीजों के बारे में पढ़ाया जाता है, ये एक टेक्निकल डिग्री कोर्स है, जिसमें स्टूडेंट्स को कंप्यूटर से रिलेटेड फिल्ड के लिए तैयार किया जाता है, जिसमे आगे जाकर के कंप्यूटर या फिर आई टी की फिल्ड में आप आसानी से काम कर सकते हैं. ये कोर्स के बाद आपको कंप्यूटर के बारे में कई सारी चीजों का ज्ञान हो जायेगा. जैसे कि सॉफ्टवेयर किस तरीके से बनता है, जैसे आप एक सॉफ्टवेयर बना सकते हैं, इसके साथ-साथ BCA डिग्री करने के बाद आप एक सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग की जॉब भी कर सकते हैं, और साथ ही BCA करने के बाद आप MCA कोर्स भी कर सकते हैं.


BCA कोर्स में क्या-क्या सिखाया जाता है-

BCA में आपको सॉफ्टवेयर बनाना सिखाया जाता है, वेबसाइट डिज़ाइन करना सिखाया जाता है, कंप्यूटर नेटवर्क के बारे में सिखाया जाता है, कंप्यूटर बेसिक के बारे में पढ़ाया जाता है, कंप्यूटर प्रोग्रामिंग लैंग्वेज भी सिखाई जाती है.
BCA करने के लिए बारहवीं पास होना चाहिये किसी भी सब्जेक्ट से. कुछ कॉलेज में BCA के लिए साइंस सब्जेक्ट भी मांगते हैं या फिर बारहवीं में मैथ्स या फिर कंप्यूटर साइंस मांगते हैं. बारहवीं में कम से कम 45% मार्क्स होने चाहिए BCA के लिए

BCA कोर्स की पढ़ाई कैसे होती है-

आपको बारहवीं पास करके अच्छे अंक लाने होंगें, आप किसी भी सब्जेक्ट से बारहवीं पास करके BCA कर सकते हैं, अगर आप एक अच्छे और नामी कॉलेज से BCA करना चाहते हैं तो इसके लिए आप एंट्रेंस एग्जाम को भर सकते हैं, और इसे क्लियर करने के बाद आप BCA में एड्मिसन ले सकते हैं, कुछ कॉलेजेस बिना एंट्रेन्स एग्जाम के भी आपको एड्मिसन देते हैं, तो आप अपने हिसाब से कॉलेज का चुनाव कर सकते हैं।

BCA की पढ़ाई पूरी कैसे करें-

जैसे ही कॉलेज में एड्मिसन हो जाता है इसके बाद आपको कॉलेज में तीन साल तक BCA कोर्स की पढ़ाई करनी होगी, जिसमे आपको कंप्यूटर बेसिक, नेटवर्किंग, वेबसाइट डेवलॅपमेंट, प्रोग्रामिंग लैंग्वेज इत्यादि के बारे में पढ़ाया जाता है, जिसमे कुल 6 सेमेस्टर होते हैं, जिसमे आपको लास्ट सेमेस्टर में प्रोजेक्ट सबमिट करना होता है, जोकि बहुत ही इम्पोर्टेन्ट है, प्रोजेक्ट कम्पलीट करने के बाद ही आपका BCA पूरा होता है।

इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें-

जैसे ही आपकी BCA की डिग्री पूरी हो जाती है तो कोशिश कीजिये कि  आप BCA के बाद कंप्यूटर फिल्ड या फिर आई टी कंपनी में इंटर्नशिप के लिए अप्लाई करें तो इससे आपको आईडिया हो जायेगा कि इंडस्ट्री में किस तरीके से काम होता है खास कंप्यूटर फिल्ड में. तो जैसे ही आपकी इंटर्नशिप हो जाये उसके बाद आप चाहें तो MCA के लिए अप्लाई कर सकते हैं, या फिर आप चाहें तो डायरेक्ट BCA करने के बाद MCA  भी कर सकते हैं।